Loading...
You are here:  Home  >  'Nagarjun'
Latest

हिटलर की नानी की जय हो!

By   /  May 11, 2013  /  Thoughts  /  No Comments

Nagarjun_(1911-1998)

इसके लेखे संसद=फंसद सब फ़िजूल है इसके लेखे संविधान काग़ज़ी फूल है इसके लेखे सत्य-अंहिसा-क्षमा-शांति-करुणा-मानवता बूढ़ों की बकवास मात्र है इसके लेखे गांधी-नेहरू-तिलक आदि परिहास-पात्र हैं इसके लेखे दंडनीति ही परम सत्य है, ठोस हकीक़त इसके लेखे बन्दूकें ही चरम सत्य है, ठोस हकीक़त जय हो, जय हो, हिटलर की नानी की जय हो! जय […]

Read More →
Latest

बर्बरता की ढाल ठाकरे

By   /  May 11, 2013  /  Thoughts  /  No Comments

Nagarjun_(1911-1998)

बाल ठाकरे! बाल ठाकरे! कैसे फासिस्‍टी प्रभुओं की, गला रहा है दाल ठाकरे! अबे संभल जा, वो आ पहुंचा बाल ठाकरे ! सबने हां की, कौन ना करे ! छिप जा, मत तू उधर ताक रे! शिव-सेना की वर्दी डाटे जमा रहा लय-ताल ठाकरे! सभी डर गए, बजा रहा है गाल ठाकरे ! गूंज रही […]

Read More →